PPT क्या होता है? PPT का फुल फॉर्म क्या होता है? PPT Full Form In Hindi

आज हम जानेंगे PPT का फुल फॉर्म क्या होता है? (PPT Full Form In Hindi) के बारे में क्योंकि अपने ख्यालों को या फिर अपने विचारों को आसानी के साथ किसी भी व्यक्ति के सामने प्रजेंट करने के लिए हमें एक प्रेजेंटेशन बनाने की जरूरत पड़ती है, जिसके लिए हम पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन का इस्तेमाल करते हैं।

बता दें कि यह एक ऐसा तरीका होता है, जिसके जरिए आप विजुअलिटी के साथ बड़े ही अच्छे तरीके से अपनी प्रेजेंटेशन को लोगों के सामने प्रस्तुत कर सकते हैं फिर वह चाहे प्रेजेंटेशन किसी भी प्रकार की क्यों ना हो। आज के इस आर्टिकल में जानेंगे कि PPT का मतलब क्या होता है, PPT Ka Full Form Kya Hota Hai, PPT Meaning In Hindi, What Is PPT Full Form In Hindi की जानकारियां तो, आइए जानते है।

PPT का फुल फॉर्म क्या होता है? – What is PPT Full Form In Hindi?

PPT Full Form in Hindi
PPT Full Form

PPT : POWER POINT PRESENTATION

PPT का Full Form “POWER POINT PRESENTATION” होता है। हिंदी में PPT का फुल फॉर्म पेश करना या फिर प्रस्तुत करना होता है। बता दे कि इसका इस्तेमाल कंप्यूटर में एक फाइल एक्सटेंशन के तहत होता है।

PPT का मतलब क्या है?

यह भी माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस का ही एक पार्ट् है और इसका इस्तेमाल करके आप टेक्स्ट, इमेज और आकार का इस्तेमाल करके एक बढ़िया प्रेजेंटेशन तैयार कर सकते हैं। मुख्य तौर पर इसका इस्तेमाल किसी भी प्रकार के ऑब्जेक्ट/सब्जेक्ट को अच्छी तरीके से लोगों के सामने प्रस्तुत करने के लिए किया जाता है। इसका इस्तेमाल करके आप जो बनाते हैं उसे पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन कहा जाता है, जिसे हिंदी में पावरप्वाइंट प्रस्तुति कहते हैं।

इसके द्वारा अपनी बात को लोगों को समझाने के लिए प्रेजेंटेशन तैयार करते हैं। यह प्रेजेंटेशन व्यक्तिगत कामों के लिए तैयार किया जाता है। तैयार की गई फाइल को सॉफ्टवेयर के अलावा अन्य सॉफ्टवेयर की सहायता से भी एडिट कर सकते हैं।

पीपीटी किसी भी व्यक्ति के लिए इस्तेमाल करने के लिए उपलब्ध है परंतु अगर बात करें इसके अधिकतर इस्तेमाल की तो एजुकेशन की फील्ड तथा बिजनेस की फीलिंग, यह दोनों ऐसी फील्ड है जहां पर इसका काफी भारी मात्रा में इस्तेमाल किया जाता है। 

इसके अलावा कॉरपोरेट सेक्टर में भी इसे यूज किया जाता है। जिस किसी भी जगह पर प्रोजेक्ट को बेहतर ढंग से समझाने की आवश्यकता होती है वहां पर इसका इस्तेमाल होता है। इसमें अलग-अलग प्रकार के बहुत सारे स्लाइड शामिल होते हैं, जो एक के बाद एक ऑटोमेटिक ही स्क्रीन पर आते रहते हैं। इसमें जो फाइल बनती है उसे तैयार करने के लिए माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस के पावर पॉइंट टूल की सहायता ली जाती है

पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन फाइल को खोलना बहुत ही आसान होता है। इसके लिए बस आपको पावर पॉइंट फाइल के ऊपर 2 बार क्लिक करना होता है, उसके बाद यह फाइल अगर सही ढंग से बनाई गई होती है, तो तुरंत ही ओपन हो जाती है।

बता दें कि पीपीटी फाइल को आसानी के साथ ऑफलाइन या फिर ऑनलाइन पीडीएफ में भी कन्वर्ट किया जा सकता है। ऑनलाइन इसे पीडीएफ में चेंज करने के लिए आप LOVE PDF या फिर SMALL PDF का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा आपके कंप्यूटर में 2010, 2013, 2016 माइक्रोसॉफ्ट है, तो आप इसे पीडीएफ फॉर्मेट में सेव कर सकते हैं क्योंकि यह ऑप्शन आपको उसमें मिलता है।

क्या मोबाइल से पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन बना सकते हैं?

हां 

क्या पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन को पीडीएफ में कन्वर्ट किया जा सकता है?

जी हां

पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन क्यों बनाया जाता है?

अपने विचारों को बेहतर ढंग से प्रस्तुत करने के लिए

पीपीटी का सबसे अधिक इस्तेमाल कहां होता है?

एजुकेशन की फिल्ड में और कंपनी में

निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है की आपको PPT क्या होता है? और PPT Full Form In Hindi की पूरी जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी। अगर अभी भी आपके मन में What Is PPT Full Form In Hindi, PPT Kya Hai और Full Form Of PPT In Hindi को लेकर कोई सवाल हो तो, आप बेझिझक Comment Box में Comment कर पूछ सकते हैं।

अगर आपको PPT (POWER POINT PRESENTATION) की जानकारी अच्छी लगी हो तो आप अपने परिवार और दोस्तों के शेयर कर सकते है ताके PPT Kya Hai और PPT Full Form In Hindi के बारे में सबको जानकारी प्राप्त हो सके।

More Full Form In Hindi