MS क्या होता है? MS का फुल फॉर्म क्या होता है? MS Full Form In Hindi

आज हम जानेंगे MS का फुल फॉर्म क्या होता है? (MS Full Form In Hindi) के बारे में क्योंकि विभिन्न प्रकार की परीक्षाओं में और कंपटीशन एग्जाम में अक्सर कुछ शब्दों के फुल फॉर्म पूछे जाते हैं। ऐसे में व्यक्ति को ज्यादा से ज्यादा फुल फॉर्म के बारे में जानकारी रखना जरूरी होता है। MS एक प्रकार की ग्रेजुएशन डिग्री होती है और जो अभ्यर्थी इस डिग्री को सफलतापूर्वक पूरा कर लेता है, उसे आसानी से नौकरी प्राप्त हो जाती है।

इस कोर्स को करने के बाद अच्छी सैलरी भी अभ्यर्थी को प्राप्त होती है। इसीलिए अधिकतर विद्यार्थी इसे करने की इच्छा रखते हैं। आज के इस आर्टिकल में जानेंगे कि MS का मतलब क्या होता है, MS Ka Full Form Kya Hota Hai, MS Meaning In Hindi, What Is MS Full Form In Hindi की जानकारियां तो, आइए जानते है।

MS का फुल फॉर्म क्या होता है? – What Is MS Full Form In Hindi?

Ms Full Form
Ms Full Form

MS : Master of Science

MS का Full Form “Master of Science” होता है हिंदी में MS का फुल फॉर्म “विज्ञान का मास्टर” होता है। यह एक Post-graduation Degree programme होती है। जिसे दुनिया के कई बड़े-बड़े देश जैसे कि यूनाइटेड स्टेट ऑफ अमेरिका, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, ब्रिटेन और अन्य देशों की यूनिवर्सिटी के द्वारा करवाया जाता है। इन देशों में ऐसी कई यूनिवर्सिटी है,जो इस कोर्स का संचालन करती हैं।

हमारे देश में भी लगभग हर यूनिवर्सिटी के द्वारा एमएस के कोर्स को करवाया जाता है और इसकी डिग्री प्रदान की जाती है। इसके साथ ही कुछ दूसरे विश्वविद्यालयों में भी M.tech या फिर ME की डिग्री के साथ MS की डिग्री दी जाती है। एमएस को मास्टर ऑफ साइंस, मास्टर ऑफ सर्जरी, माइक्रोसॉफ्ट भी कहा जाता है।

MS का मतलब क्या है?

MS साइंस से रिलेटेड एक सर्जरी की डिग्री होती है और यह काफी सम्मानजनक डिग्री मानी जाती है। MS की डिग्री को मेडिसिन में ग्रेजुएशन करने के बाद पोस्ट ग्रेजुएशन के तौर पर भी किया जा सकता है। इस कोर्स की टोटल अवधि 3 साल की होती है और यह टोटल कोर्स टोटल 6 Semester में विभाजित होता है। अगर किसी विद्यार्थी ने किसी भी सब्जेक्ट में Post Graduation पहले से ही किया हुआ है तो उसे एमएस के कोर्स को करने में सिर्फ 2 साल का समय लगता है।

अगर विद्यार्थी इस कोर्स में एडमिशन पाना चाहते हैं, तो उसे इस कोर्स को अधिक से अधिक 5 सालों में पूरा करना होता है। एमएस के कोर्स में विद्यार्थी को किसी भी मान्यता प्राप्त पोस्ट ग्रेजुएशन विभाग में कम से कम 6 महीने की Training और Study करनी होती है। एमएस के कोर्स को ऐसे किसी इंस्टिट्यूट से ही करना चाहिए, जो मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया(MCI) के द्वारा सर्टिफाइड हो।

MS के पॉपुलर कोर्स

  • Master of Science in Economics
  • Master of Science in Engineering
  • Master of Science in Management
  • Master of Social Science
  • Master of Science in Botany
  • Master of Science in Nursing
  • Master of Science in Information Technology

MS कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा

जो अभ्यर्थी एम एस का कोर्स करना चाहते हैं,उन्हें इसके लिए कुछ Entrance Exam देनी होती है। एमएस के कोर्स के लिए जो मुख्य तौर पर एंट्रेंस एग्जाम का आयोजन होता है, उनके नाम UP PGMEE,AIPGMEE,DUPGMET हैं।

एमएस कोर्स करने के बाद कितनी सैलरी प्राप्त होती है?

जैसा कि हमने आपको बताया कि एमएस का कोर्स मेडिकल फील्ड में काफी सम्मानजनक कोर्स माना जाता है और इस कोर्स को करने के लिए व्यक्ति को काफी मेहनत भी करनी पड़ती है। सामान्य तौर पर जब अभ्यर्थी एमएस के कोर्स को सफलतापूर्वक पूरा कर लेता है, तो किसी भी जगह पर अगर उसकी नौकरी लग जाती है तो उसे शुरुआत में महीने की तनख्वाह के तौर पर तकरीबन ₹50000 से लेकर ₹60000 तक की Salary प्राप्त होती है।

इसके अलावा अगर वह विदेशों में नौकरी करता है तो उसकी महीने की तनख्वाह ज्यादा हो सकती है। एमएस के कोर्स को करने के बाद सैलरी इस बात पर भी आधारित होती है कि व्यक्ति सरकारी नौकरी कर रहा है या फिर प्राइवेट नौकरी कर रहा है।

निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है की आपको MS क्या होता है? और MS Full Form In Hindi की पूरी जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी। अगर अभी भी आपके मन में What Is MS Full Form In Hindi, MS Kya Hai और Full Form Of MS In Hindi को लेकर कोई सवाल हो तो, आप बेझिझक Comment Box में Comment कर पूछ सकते हैं।

अगर आपको MS (Master of Science) की जानकारी अच्छी लगी हो तो आप अपने परिवार और दोस्तों के शेयर कर सकते है ताके MS Kya Hai और MS Full Form In Hindi के बारे में सबको जानकारी प्राप्त हो सके।

More Full Form In Hindi

Leave a Comment