IDE क्या होता है? IDE का फुल फॉर्म क्या होता है? IDE Full Form In Hindi

आज हम जानेंगे IDE का फुल फॉर्म क्या होता है? (IDE Full Form In Hindi) के बारे में क्योंकि अक्सर हम रोजाना अपने दैनिक जीवन में कुछ ऐसे छोटे शब्दों का इस्तेमाल करते हैं, जिनके मतलब के बारे में हमें जानकारी नहीं होती है। बस हम उन शब्दों का सामान्य तौर पर इस्तेमाल करते हैं। ऐसा ही एक शब्द IDE है। हमें पता है कि आपको इसका मतलब नहीं पता है तभी आप इंटरनेट पर सर्च करके इस आर्टिकल पर आए हैं।

तो आज हम आपको बिल्कुल भी निराश नहीं करेंगे। आज के इस आर्टिकल में जानेंगे कि IDE का मतलब क्या होता है, IDE Ka Full Form Kya Hota Hai, IDE Meaning In Hindi, What Is IDE Full Form In Hindi की जानकारियां तो, आइए जानते है।

IDE का फुल फॉर्म क्या होता है? – What Is IDE Full Form In Hindi?

Ide Full Form
Ide Full Form

IDE : Integrated Development Environment

IDE का Full Form “Integrated Development Environment” होता है हिंदी में IDE  का फुल फॉर्म “एकीकृत विकास परिवेश” होता है। बता दें IDE एक ऐसी एप्लीकेशन है जो किसी भी प्रोग्रामर को एप्लीकेशन को बनाने की सर्विस देती है। यह एक ऐसा प्रोग्रामिंग एनवायरमेंट है जिसमें एक पैकेज में बहुत सारी वस्तुएं होती हैं। जैसे कि code editor, compiler, debugger. यह सभी उन बेसिक डिवाइस को कनेक्ट करती हैं जिन्हें कोई डेवलपर टेस्ट करने के लिए या फिर सॉफ्टवेयर बनाने के लिए यूज करता है।

इस प्रकार का इन्वायरमेंट एप्लीकेशन डेवलपर को एक ही जगह पर compiling, debugging और executing टाइम पर कोड लिखने की परमिशन देता है। सामान्य तौर पर एक आईडीई में कम से कम एक सोर्स कोड एडिटर होता है। कुछ आईडीई जैसे कि एक्लिप्स और नेटबींस में जरूरी कंपाइलर, ट्रांसलेटर या फिर दोनों हो सकते हैं।

IDE कैसे काम करता है?

IDE सिंगल प्रोग्राम प्रेजेंट करता है जिसमें सभी डेवलपमेंट किए जाते हैं। यह प्रोग्राम सामान्य तौर पर सॉफ्टवेयर को ऑथरिंग, मोडिफाइंग, compiling,deploying और Debugging सॉफ्टवेयर के लिए कई सर्विस प्रदान करता है। एक ही एप्लीकेशन में सभी प्रकार की प्रोग्रामिंग से संबंधित काम को करने के लिए ही आईडीई को डिजाइन किया गया है।इसीलिए आईडीई एक सेंट्रल इंटरफेस प्रदान करता है जिसमें नीचे बताए गए सभी टूल शामिल होते हैं, जो डेवलपर की आवश्यकता को पूरा करने का काम करते हैं।

1. Code editor : इस फीचर को टेक्स्ट एडिटर कहा जाता है और इसका इस्तेमाल सोर्स कोड को एडिट करने के लिए तथा सोर्स कोड को लिखने के लिए किया जाता है। सोर्स कोड एडिटर को टेक्स्ट एडिटर से अलग किया जाता है, क्योंकि यह Code के लेखन और एडिटिंग को काफी आसान बना देते हैं।

2. Compiler : यह डिवाइस पढ़ने और लिखने के लायक लैंग्वेज में लिखे गए सोर्स कोड को कंप्यूटर के द्वारा executable में चेंज कर देता है।

3. Debugger : जब कभी डिबग एप्लीकेशन प्रोग्राम को हेल्प करने की बारी आती है, तब Debugg एप्लीकेशन प्रोग्राम को हेल्प करने के लिए टेस्ट के दरमियान इस Tool का यूज किया जाता है

4. Build automation tools : सामान्य प्रकार के डेवलपर कामों को ऑटोमेटिक चालू रखने के लिए इस डिवाइस का इस्तेमाल किया जाता है।

5. Class browser : क्लास ब्राउज़र टूल का इस्तेमाल ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड क्लास पदानुक्रम की खासियतओं की चेकिंग और संदर्भ के लिए होता है।

6. Object browser : जब कभी किसी रनिंग एप्लीकेशन प्रोग्राम में किसी ऑब्जेक्ट की जांच करनी होती है, तब इस सर्विस का इस्तेमाल किया जाता है।

7. Class hierarchy diagram : यह डिवाइस किसी भी प्रोग्रामर को ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग कोड की संरचना की इमैजिनेशन करने की परमिशन देता है।

IDE का फायदा क्या है?

IDE का सबसे बड़ा फायदा यह है कि व्यक्ति समय के साथ अप टू डेट और शिक्षित रहता है और इसके द्वारा प्रोग्रामर लगातार सीख सकता है।

निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है की आपको IDE क्या होता है? और IDE Full Form In Hindi की पूरी जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी। अगर अभी भी आपके मन में What Is IDE Full Form In Hindi, IDE Kya Hai और Full Form Of IDE In Hindi को लेकर कोई सवाल हो तो, आप बेझिझक Comment Box में Comment कर पूछ सकते हैं।

अगर आपको IDE (Integrated Development Environment) की जानकारी अच्छी लगी हो तो आप अपने परिवार और दोस्तों के शेयर कर सकते है ताके IDE Kya Hai और IDE Full Form In Hindi के बारे में सबको जानकारी प्राप्त हो सके।

More Full Form In Hindi

Leave a Comment